Thought For the Day

ये है मुंबई के सूसन डॉक का 142 साल पुराना इतिहास!

मुंबई शहर जो कभी थकता नहीं, कभी रुकता नहीं, कभी सोता नहीं… चहलकदमी भरे इसी मुंबई शहर में सूसन डॉक बड़ी ही ख़ामोशी से अपना 142 साल पुराना इतिहास समेटे लाचार खड़ा था। वही ससून डॉक, जहां के मछुआरे मुंबई के सबसे पहले निवासी कहे जाते हैं। तेज़ी से तरक्क़ी करते मुंबई शहर में उसी का एक अभिन्न अंग ‘ससून डॉक’ चुपचाप असहाय और लाचार खड़ा था। मुंबई के कोलाबा जैसे प्राइम लोकेशन पर होने के बावजूद ससून डॉक को लोगों नज़रअंदाज़ कर दिया था।
और अब, पूरे 142 साल बाद ससून डॉक को वो रंग-रूप, वो रौनक फिर से मिल गई है, जिसका वो हक़दार था। स्टार्ट इंडिया फाउंडेशन (St+art India Foundation), जिसका मक़सद है आर्ट गैलरी तक सीमित कला को आगे बढ़ाना, ने देश-विदेश के कई कलाकारों के साथ मिलकर ससून डॉक को इतना सुंदर और भव्य रूप दिया है कि अब हर कोई इसकी ख़ूबसूरती को निहारना चाहता है, इसके इतिहास के बारे में जानना चाहता है।
स्टार्ट इंडिया फाउंडेशन (St+art India Foundation), एशियन पेंट्स (Asian Paints), मुंबई पोर्ट ट्रस्ट (Mumbai Port Trust (MBPT), सिंगापुर टूरिज़्म बोर्ड, (Singapore Tourism Board), बॉंजौर इंडिया (Bonjour India), Institute FRANCAIS, JSW Group आदि ने साथ मिलकर कोलाबा, मुंबई में ससून डॉक आर्ट प्रोजेक्ट (Sassoon Dock Art Project) के माध्यम से एक अनोखे आर्ट एग्जीबिशन की शुरुआत की है, जिसमें ससून डॉक के 142 साल पुराने इतिहास को लोगों के सामने रखने का प्रयास किया गया है।
स्टार्ट मुंबई 2017 अर्बन आर्ट फेस्टिवल (St+art Mumbai 2017 Urban Art Festival) कला और इतिहास का एक ऐसा अनोखा संगम है, जो ससून के मछुआरे, जो मुंबई के सबसे पहले निवासी हैं, उनके इतिहास के बारे में बताता है। साथ ही इस आर्ट प्रोजेक्ट के माध्यम से उन अनदेखे चेहरों को भी दुनिया के सामने लाने का प्रयास किया गया है, जिनका जीवन ससून डॉक पर ही निर्भर है। इस अनोखे आर्ट प्रोजेक्ट में कला के माध्यम से प्रदूषण रोकने, स्वच्छता अभियान, सभी तरह के जीवों की रक्षा जैसे कई महत्वपूर्ण संदेश भी दिए गए हैं। ससून डॉक आर्ट प्रोजेक्ट (Sassoon Dock Art Project) को इतना भव्य और वास्तविक रूप देने के लिए भारत और विदेश के कई कलाकारों ने दिनरात मेहनत की है।

ससून डॉक आर्ट प्रोजेक्ट (Sassoon Dock Art Project) के मुख्य आकर्षण हैं:

* जलजीवन के ख़ूबसूरत और अद्भुत नज़ारे

* मुंबई के कोली लोगों के जीवन की दिलचस्प झांकियां

* जलप्रदूषण कितना हानिकारक हो सकता है इसकी जानकारी

* जल में पाई जाने वाली ख़ूबसूरत और बेशकीमती चीज़ों की झलक

* कला के माध्यम से ज़िंदगी और मोहब्बत को महसूस करने का बेहतरीन मौक़ा

* कला के माध्यम से कोली समाज के जीवन को समझने का अवसर

* रंगों की ख़ूबसूरत और अद्भुत दुनिया से ख़ास मुलाक़ात

* जल की मछलियों को करीब से जानने-समझने का मौक़ा

क्या आपने देखी है चर्चगेट स्टेशन की ये पेंटिंग?

स्टार्ट इंडिया फाउंडेशन (St+art India Foundation) इस साल मुंबई के कई महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक स्थानों पर कला के माध्यम से शहर की कई भूली-बिसरी यादों को ताज़ा करने का बेहतरीन काम कर रहा है, साथ ही मुंबई के लोगों को अपने शहर को जानने-समझने के कई दिलचस्प मौक़े भी दे रहा है। स्टार्ट मुंबई 2017 का लक्ष्य है आर्ट के ज़रिए लोगों को एक-दूसरे के करीब लाना। इस प्रोजेक्ट में ससून डॉक, माहिम ईस्ट, चर्चगेट स्टेशन, जिंदल मेन्शन आदि शामिल हैं।

ऐतिहासिक चर्चगेट स्टेशन, वेस्टर्न रेलवे का पहला रेलवे स्टेशन है। यहां रोज़ाना लगभग 5 लाख मुंबईकर आते हैं। चर्चगेट स्टेशन की बाहरी दीवार पर मशहूर ब्राज़ीलियन आर्टिस्ट एडुआर्डो कोबरा ने ‘फेस ऑफ पीस’ के लिए महात्मा गांधी की पेंटिंग बनाई है। गांधी जी और ट्रेन का हमारी आज़ादी के साथ बड़ा गहरा नाता है। साउथ अफ्रीका में जब गांधी जी को ट्रेन से धक्का देकर उतारा गया था, वहीं से हमारी आज़ादी की लड़ाई की शुरुआत हुई थी। मुंबई शहर के इस व्यस्त स्टेशन पर गांधी जी की पेंटिंग लगाने का मक़सद है लोगों को गांधी जी और उनके विचारों की याद दिलाना।

यूं ही नहीं कहा जाता कि कला समाज का आईना होती है और कला में इस्तेमाल होने वाले रंग समाज का चेहरा। स्टार्ट मुंबई 2017 अर्बन आर्ट फेस्टिवल (St+art Mumbai 2017 Urban Art Festival) में शामिल होकर आप भी कला और रंगों की हसीन दुनिया का लुत्फ़ उठाइए।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s