Emotional Affair, Emotional Story, Love Stories, Romantic

मन का रिश्ता: दोस्ती से थोड़ा ज़्यादा-प्यार से थोड़ा कम (10 Practical Things You Need To Know About Emotional Affairs)

रिश्तों का दायरों में कुछ रिश्ते मन के भी होते हैं, जिन्हें कोई नाम तो नहीं दिया जा सकता, लेकिन इनके अस्तित्व को नाकारा भी नहीं जा सकता. इन्हीं रिश्तों में से एक है शादीशुदा स्त्री और पुरुष का ऐसा रिश्ता, जो दोस्ती से एक क़दम आगे होता है, लेकिन इसे प्यार का नाम भी… Continue reading मन का रिश्ता: दोस्ती से थोड़ा ज़्यादा-प्यार से थोड़ा कम (10 Practical Things You Need To Know About Emotional Affairs)

Being Woman, Emotional Story, fiction, Hindi Kahani, Inspirational, kahani, Katha-Kahani, Ladies Special

कहानी- औरत ही रहने दो (Short Story- Aurat Hi Rahne Do)

“रश्मि, ये कहां लिखा है कि औरत कमज़ोर होती है? जब सृजन का दायित्व ही औरत के कंधों पर है, तो वो कमज़ोर कहां से हुई? हर बच्चा अपनी मां के संरक्षण और उसकी देखरेख में बड़ा होता है, फिर चाहे वो स्त्री हो या पुरुष, फिर औरत कमज़ोर कैसे हुई? ये औरतों की अपनी… Continue reading कहानी- औरत ही रहने दो (Short Story- Aurat Hi Rahne Do)

Emotional Story, fiction, Hindi Kahani, kahani, Katha-Kahani

कहानी- माफ़ करना शिखा! (Short Story- Maaf Karna Shikha!)

‘तुम नहीं जानती शिखा, तुम्हें खोने के एहसास ने मुझे किस क़दर झकझोर कर रख दिया था. अगर तुम्हें कुछ हो जाता, तो शायद मैं ख़ुद को कभी माफ़ न कर पाता. माफी के क़ाबिल तो मैं अब भी नहीं हूं, लेकिन तुम साथ हो, तो कम से कम अपने पापों का पश्‍चाताप तो कर… Continue reading कहानी- माफ़ करना शिखा! (Short Story- Maaf Karna Shikha!)