Entertainment, fiction, Hindi Kahani, kahani, Katha-Kahani, Social issues, Storybazi

‘पासबान ए अदब’ में शानदार ‘स्टोरीबाज़ी’ की ‘अनुभूति’ (Pasbaan-E-Adab Anubhuti- Hindi Poetry Festival)

'पासबान ए अदब' में शानदार 'स्टोरीबाज़ी' की 'अनुभूति' इसलिए ख़ास है Divya Prakash Dubey की स्टोरीबाज़ी कल (3 नवंबर 2019) मुंबई के सोफिया कॉलेज में 'पासबान ए अदब' द्वारा हिंदी साहित्य उत्सव 'अनुभूति' का आयोजन किया गया, जिसमें दिव्य प्रकाश दुबे की स्टोरीबाज़ी सुनी... हर कहानी पर युवाओं ने जमकर तालियां बजाईं... नई वाली हिंदी… Continue reading ‘पासबान ए अदब’ में शानदार ‘स्टोरीबाज़ी’ की ‘अनुभूति’ (Pasbaan-E-Adab Anubhuti- Hindi Poetry Festival)

Being Human, Emotional Affair, Ladies Special, Social issues, Thought For the Day, Uncategorized

गालियां मां-बहन को क्यों दी जाती हैं? बाप-भाई को क्यों नहीं? why do people give gaali on maa-behen?

आपने अपने आसपास जब भी किसी को गाली देते हुए सुना होगा, तो उसमें मां-बहन की गालियां न हों ऐसा तो हो ही नहीं सकता। हैरत की बात तो ये है कि ख़ुद महिलाएं भी धड़ल्ले से मां-बहन की गालियां देती हैं। आख़िर गालियों के लिए महिलाओं और उनके प्राइवेट पार्ट को क्यों टारगेट किया… Continue reading गालियां मां-बहन को क्यों दी जाती हैं? बाप-भाई को क्यों नहीं? why do people give gaali on maa-behen?

Inspirational, Life Positive, Motivational, Positive Thoughts, Social issues, Thought For the Day, Uncategorized

पैसा बड़ा है या हुनर? Money VS Talent: What Is More Important?

पैसा बड़ा है या हुनर? ये सवाल कभी न कभी आपके ज़ेहन में भी आया होगा. आपको क्या लगता है? क्या पैसा और हुनर दोनों एक-दूसरे के पूरक हैं? क्या समय के साथ दोनों के मायने बदलते रहते हैं? क्या पैसा अच्छे से अच्छे हुनर को ख़रीद सकता है? हुनर से पैसा कमाया जा सकता… Continue reading पैसा बड़ा है या हुनर? Money VS Talent: What Is More Important?

Being Human, Being Woman, Bollywood, Social issues

#MeToo Movement मुद्दा या भेड़चाल..?

#MeToo Movement अब थमने का नाम नहीं ले रहा. हर किसी की निगाहें अब इस बात पर टिकी हैं कि अगला नाम किसका होगा. बॉलीवुड से लेकर आम जनता तक... हर कोई #MeToo Hashtag के इर्दगिर्द ही घूम रहा है. अचानक सुनामी की तरह प्रकट हुए #MeToo Movement में कोई अपनी आप बीती बयां कर… Continue reading #MeToo Movement मुद्दा या भेड़चाल..?